चीन ने 3 बच्चे पैदा करने की दी छूट, बूढ़ों की बढ़ती तादाद समेत इन वजहों से लेना पड़ा फैसला - SARKARI JOB INDIAN

चीन ने 3 बच्चे पैदा करने की दी छूट, बूढ़ों की बढ़ती तादाद समेत इन वजहों से लेना पड़ा फैसला

[ad_1]
[ad_1]

चीन ने 3 बच्चे पैदा करने की दी छूट, बूढ़ों की बढ़ती तादाद समेत इन वजहों से लेना पड़ा फैसला

China Child Policy

बीजिंग: चीन ने अपने नागरिकों को अब तीन बच्चे पैदा करने की छूट दे दी है. कम्यूनिट पार्टी की पोलित ब्यूरो की बैठक के बाद यह घोषणा की गई. इस बैठक में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी शामिल थे. चीन की जनसंख्या नीति में ये बड़ा बदलाव माना जा रहा है. चीन ने कुछ साल पहले ही 2 बच्चे पैदा करने की नीति को मंजूरी दी थी, हालांकि इससे भी देश में तेजी से घटती जन्मदर और बूढ़ों की बढ़ती आबादी की रफ्तार कम नहीं हुई.  

दरअसल, भारत की तरह चीन में भी हर दशक होने वाली जनगणना के नतीजे हाल ही में जारी किए गए हैं. इसके अनुसार, 2020 में 1.2 करोड़ बच्चों ने चीन में जन्म लिया. यह जन्म दर 1961 के बाद 50 सालों में सबसे कम आंकी गई है. 

2020 की जनगणना के अनुसार, चीन की जनसंख्या (China population )पिछले एक दशक में महज 5.4 फीसदी की दर से ही बढ़ी है. तमाम प्रोत्साहनों के बावजूद वर्ष 2017 के बाद से ही लगातार चीन की जन्मदर में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है. 

गौरतलब है कि चीन में लंबे वक्त तक एक बच्चे की नीति लागू रही. इसका परिणाम हुआ कि चीन में महिला और पुरुषों की आबादी के बीच असंतुलन (Demographic Imbalance) बेहद गड़बड़ा गया. चीन में करीब 30 करोड़ पुरुषों की आबादी को विवाह के लिए लड़कियां ही नहीं मिल रही हैं. चीन की कम्यूनिट सरकार ने 2016 में एक बच्चे की नीति में ढील देकर 2 बच्चे पैदा करने की इजाजत दी, लेकिन 2018 में जन्म दर 1000 लोगों पर जन्म बच्चों का अनुपात 2018 में 10.94 और 2019 में 10.48 रहा. 

[ad_2]
[ad_1]

Source link

Leave a comment