दिल्ली में करीब तीन महीने बाद कोरोना के 1000 से ज्यादा नए मामले आए सामने - SARKARI JOB INDIAN

दिल्ली में करीब तीन महीने बाद कोरोना के 1000 से ज्यादा नए मामले आए सामने

[ad_1]

दिल्ली में करीब तीन महीने बाद कोरोना के 1000 से ज्यादा नए मामले आए सामने

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली: Delhi Coronavirus Updates: देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस (oronavirus) संक्रमण की रफ्तार एक बार फिर डराने लगी है. पिछले 24 घंटे में यहां 1000 से ज्यादा नए संक्रमित मिले हैं. मंगलवार शाम जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में राजधानी में 1101 नए मामले सामने आए जिसके बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 6,49,973 हो गई. 19 दिसंबर के बाद यह पहला मौका है जब एक दिन में सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं. 19 दिसंबर को 1139 नए मामले सामने आए थे. राजधानी में अब एक्टिव केस की संख्या भी 4411 हो गई है. इससे पहले 6 जनवरी को सबसे ज़्यादा 4481 एक्टिव मामले थे. राजधानी में कोरोना से रिकवरी रेट 97.63% है जबकि एक्टिव मरीज़ों का प्रतिशत 0.67% है. दिल्ली में कोरोना से डेथ रेट 1.69% है जबकि पॉजिटिविटी रेट 1.31% है.

यह भी पढ़ें

पिछले 24 घंटे में 4 और मरीजों की मौत इस जानलेवा वायरस की वजह से हो गई जिसके बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 10,967 हो गई. इस दौरान 620 मरीज ठीक भी हुए जिन्हें मिलाकर अब तक कुल 6,34,595 लोग ठीक हो चुके हैं. राजधानी में पिछले 24 घंटों में 84,237 टेस्ट किए और अब तक हुए कुल 1,39,74,132 टेस्ट किए जा चुके हैं.

अगर पूरे देश की बात करें तो भारत में कोरोना की दूसर लहर (Corona Second wave in India) की खबर के बीच पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 40 हजार से ज्यादा मामले सामने आए. मामूली राहत इस बात की रही कि सोमवार के मुकाबले मंगलवार को 13 फीसदी कम नए मामले सामने आए. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मंगलवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार देश में पिछले 24 घंटों में 40 हजार 715 नए मामले सामने आए जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 11,686,796 हो गई. चिंता की बात ये है कि एक्टिव मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है, जहां पिछले महीने यह 2 लाख के नीचे आ गई थी. अब बढ़कर 3 लाख 45 हजार 477 हो गई है. पिछले 24 घंटों में एक्टिव मरीजों की संख्या में 10 हजार 731 का इजाफा हुआ है.

इस बीच केंद्र सरकार (Central government) ने देश के कई हिस्‍सों में कोविड-19 के केसों में आए उछाल (Spike in Covid cases) के बीच नई गाइडलाइन जारी की. इन नए दिशानिर्देशों में कहा गया है कि राज्‍य अपने मूल्‍यांकन के आधार पर स्‍थानीय स्‍तर पर बंदिशें लगा सकते हैं लेकिन कंटेनमेंट जोन्‍स के बाहर किसी भी गतिवधि को प्रतिबंधित नहीं किया जाएगा. केंद्र ने मंगलवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा कि RT-PCR जांच, जांच-निगरानी-उपचार प्रोटोकॉल को कड़ाई से लागू करने और सभी प्राथमिकता समूहों के टीकाकरण की प्रक्रिया में तेजी लाई जाए. गृह मंत्रालय ने अप्रैल के लिए नया दिशानिर्देश (New Covid Rules) जारी करते हुए कहा कि कोविड-19 के मामलों में फिर से तेजी के मद्देनजर नए संक्रमित मरीजों को जल्द से जल्द पृथक करने और समय पर उपचार करने की जरूरत है.

[ad_2]

Source link

Leave a comment