पोलिंग बूथ के बाहर फायरिंग को ममता बनर्जी ने दिया 'नरसंहार' करार, कहा- 'सीने में मारी गई थी गोली' - SARKARI JOB INDIAN

पोलिंग बूथ के बाहर फायरिंग को ममता बनर्जी ने दिया ‘नरसंहार’ करार, कहा- ‘सीने में मारी गई थी गोली’

[ad_1]
[ad_1]

पोलिंग बूथ के बाहर फायरिंग को ममता बनर्जी ने दिया 'नरसंहार' करार, कहा- 'सीने में मारी गई थी गोली'

West Bengal Polls: प्रेस कॉन्फ्रेन्स को संबोधित करते हुए ममता ने कहा, “सभी बाहरी लोगों- ने गोलीबारी की है.

सिलिगुड़ी: पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने दावा किया है कि केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बलों (CISF) द्वारा गोलीबारी के दौरान शनिवार की सुबह कूच बिहार में मारे गए लोगों को “सीने में गोली” लगी थी. इसे “नरसंहार” करार देते हुए उन्होंने कहा कि CISF केवल औद्योगिक मामलों से निपटने के लिए ही योग्य था और भीड़ नियंत्रण में अनुभवी नहीं है.

यह भी पढ़ें

आज (रविवार) एक प्रेस कॉन्फ्रेन्स को संबोधित करते हुए ममता ने कहा, “सभी बाहरी लोगों- ने गोलीबारी की है. नियम हैं कि पहले लाठी (डंडों) चलाए जाएं, फिर आंसू गैस के गोले छोड़े जाएं या पानी की बौछारें छोड़ी जाएं.. यही नियम हैं. मैं इसके साथ राजनीति नहीं करना चाहती. मैं शुरू से कह रही हूं कि वे लोगों को भयभीत कर रहे हैं और उन्हें वोट देने से मना कर रहे हैं. लोगों को मतदान करने की अनुमति दी जानी चाहिए. मतदान ही उसका मुंहतोड़ जवाब है.”

चुनाव आयोग पर फूटा CM ममता बनर्जी का गुस्सा, कहा- EC का नाम बदलकर MCC कर देना चाहिए…

CM बनर्जी – जो चुनाव आयोग द्वारा इस क्षेत्र के राजनीतिक नेताओं पर प्रतिबंध लगाने के आदेश की वजह से मौके पर नहीं जा सकीं – ने कुछ शोक संतप्त परिवारों के साथ वीडियो कॉल के जरिए बात भी की.

एक दिन पहले भी ममता बनर्जी ने कूच बिहार में गोलीबारी में चार लोगों की मौत के संदर्भ में केंद्रीय बलों द्वारा “आत्मरक्षा में” यह कदम उठाये जाने की दलील पर सवाल खड़ा किया था और कहा था कि उनकी सरकार इस घटना की सीआईडी जांच कराएगी. बनर्जी ने कहा कि केंद्रीय बलों के दावे के पक्ष में कोई भी वीडियो फुटेज या अन्य कोई सबूत नहीं हैं.

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, निर्वाचन आयोग के विशेष पुलिस पर्यवेक्षक विवेक दुबे द्वारा दी गई शुरुआती रिपोर्ट में कहा गया है कि करीब 350-400 लोगों की भीड़ ने केंद्रीय बलों को घेर लिया जिसके बाद उन्होंने “आत्म-रक्षा” में गोली चलाई. 

पश्चिम बंगाल के हिंसाग्रस्त जिले में नेताओं के प्रवेश पर 3 दिन की पाबंदी लगाई गई

उत्तर बंगाल के सबसे बड़े शहर सिलीगुड़ी में संवाददाताओं से बात करते हुए बनर्जी ने कहा, ‘‘ यह बात (आत्म रक्षा में गोली चलाने की) कहां से आयी. उनकी तरफ से कौन घायल हुआ? क्या कोई फुटेज है? लोगों की हत्या करने के बाद वे अपनी इस हरकत का बचाव कर रहे हैं. ” उन्होंने कहा, ‘‘इस घटना से जुड़ी परिस्थितियों का पता लगाने के लिए सीआईडी जांच करायी जाएगी.” (भाषा इनपुट्स के साथ)

वीडियो- कूचबिहार हिंसा पर चुनाव आयोग सख्त, नेताओं के जाने पर रहेगी पाबंदी

[ad_2]
[ad_1]

Source link

Leave a comment