भारत में जोरों पर जारी है टीकाकरण अभियान, अब तक 3.64 करोड़ से ज्यादा लोगों को दी गई वैक्सीन - SARKARI JOB INDIAN

भारत में जोरों पर जारी है टीकाकरण अभियान, अब तक 3.64 करोड़ से ज्यादा लोगों को दी गई वैक्सीन

[ad_1]

भारत में जोरों पर जारी है टीकाकरण अभियान, अब तक 3.64 करोड़ से ज्यादा लोगों को दी गई वैक्सीन

अब तक 3.64 करोड़ से ज्यादा लोगों को टीका लगाया जा चुका है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • 3.64 करोड़ से ज्यादा लोगों का टीकाकरण
  • देश में 16 जनवरी से शुरू हुआ था अभियान
  • भारत के कई राज्यों में बढ़ रहे कोरोना के मामले

नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को जानकारी दी कि अब तक देश में COVID-19 टीके की कुल 3.64 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं. मंत्रालय ने बताया कि अंतरिम आंकड़ों के मुताबिक बुधवार शाम सात बजे तक कोविड-19 टीके की 3,64,67,744 खुराक दी गई है. आंकड़ों के मुताबिक इनमें 75,47,958 स्वास्थ्य कर्मी शामिल हैं. स्वास्थ्य कर्मियों में 46,08,397 को दूसरी खुराक भी लग चुकी है. इसके अलावा 76,63,647 अग्रिम मोर्चे पर कार्यरत कर्मियों को टीका लगाया गया है, जिनमें से 17,86,712 कर्मी दूसरी खुराक ले चुके हैं.

यह भी पढ़ें

इनके अलावा 60 साल से अधिक उम्र के 1,24,74,362 लाभार्थियों को और 45 से 60 साल उम्र के गंभीर बीमारी से जूझ रहे 23,86,568 लोगों को भी कोविड-19 का टीका लगाया गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया, ‘‘देश व्यापी टीकाकरण अभियान के 60वें दिन (बुधवार को) शाम सात बजे तक टीके की 14,03,208 खुराक दी गई. ”

भारत में कोविड-19 टीके की 6.5 प्रतिशत खुराक हो रही बर्बाद : केंद्र सरकार

मंत्रालय ने बताया, ‘‘इनमें से 12,10,498 लाभार्थियों को टीके की पहली खुराक दी गई जबकि 1,92,710 स्वास्थ्य कर्मियों एवं अग्रिम मोर्चे पर कार्यकत कर्मियों को टीके की दूसरी खुराक दी गई.” मंत्रालय के मुताबिक अंतिम रिपोर्ट देर रात तक आएगी.

आंकड़ों के मुताबिक बुधवार को जिन को 12,10,498 लोगों को पहली खुराक दी गई, उनमें से 8,84,918 की उम्र 60 साल से अधिक थी, जबकि 2,60,160 ऐसे लोग थे जिनकी उम्र 45 से 60 साल के बीच थी और वे अन्य गंभीर बीमारियों से जूझ रहे हैं.

महाराष्‍ट्र में कोरोना के नए मामलों ने बजाई ‘खतरे की घंटी’, 24 घंटों में 23 हजार से ज्‍यादा केस

गौरतलब है कि 16 जनवरी को स्वास्थ्यकर्मियों के टीकाकरण के साथ देशव्यापी टीकाकरण की शुरुआत हुई. दो फरवरी से अग्रिम मोर्चे पर कार्यरत कर्मियों का भी टीकाकरण अभियान शुरू हुआ. इसके अगले चरण में एक मार्च से 60 साल से अधिक उम्र के लोगों और 45 से अधिक उम्र के गंभीर बीमारी से जूझ रहे लोगों का टीकाकरण शुरू हुआ.

VIDEO: दिल्ली के 56 प्रतिशत लोगों में एंटीबॉडीज : डॉ अरुण गुप्ता

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

[ad_2]

Source link

Leave a comment