मर्डर केस : सुशील कुमार और सह-आरोपी को छत्रसाल स्टेडियम लेकर पहुंची क्राइम ब्रांच - SARKARI JOB INDIAN

मर्डर केस : सुशील कुमार और सह-आरोपी को छत्रसाल स्टेडियम लेकर पहुंची क्राइम ब्रांच

[ad_1]
[ad_1]

मर्डर केस : सुशील कुमार और सह-आरोपी को छत्रसाल स्टेडियम लेकर पहुंची क्राइम ब्रांच

पहलवान सुशील कुमार.

नई दिल्ली: पहलवान सुशील कुमार एक पहलवान की हत्या के मामले में अभी दिल्ली पुलिस के रिमांड में हैं. मंगलवार को सुशील पहलवान और साथी आरोपी अजय को क्राइम ब्रांच छत्रसाल स्टेडियम लेकर पहुंची थी. अल सुबह ही दोनों आरोपियों को छत्रसाल स्टेडियम ले जाकर मौका मुआयना करवाया गया. करीब 1 घण्टे तक क्राइम ब्रांच की टीम स्टेडियम के अंदर मौजूद थी. बता दें, 23 मई को गिरफ्तारी के बाद सुशील कुमार को रोहिणी कोर्ट ने 6 दिनों की पुलिस रिमांड में भेज दिया था. 

यह भी पढ़ें

आरोप है कि सुशील कुमार और कुछ अन्य पहलवानों द्वारा चार मई की रात को दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम कैंपस में की गई मारपीट में सागर राणा की मौत हो गई थी. इसके बाद सुशील कुमार और अन्य पहलवान फरार हो गए थे. सुशील कुमार की तलाश में दिल्ली पुलिस ने बठिंडा समेत पंजाब के कई इलाकों में शनिवार को दबिश दी थी, लेकिन वह मौके से फरार हो गया था. इसके बाद दिल्ली पुलिस ने ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार और उनके सहयोगी अजय उर्फ सुनील को मुंडका से गिरफ्तार किया था. सुशील पर एक लाख रुपये जबकि उनके साथी अजय पर 50 हजार रुपये के इनाम रखा गया था.

सुशील कुमार ने की थी घटना की वीडियो रिकॉर्डिंग, कुश्ती जगत को करना चाहता था आतंकित: पुलिस

कोर्ट में सुनवाई के दौरान दिल्ली पुलिस ने बताया कि सुशील कुमार और उसके साथियों ने पीड़ितों को जानवरों की तरह मारा. हत्यारोपी सुशील कुमार और उसके साथ उस इलाके में अपना आतंक कायम करना चाहते थे. दिल्ली पुलिस ने रविवार को यह भी कहा था कि हत्या के एक मामले में गिरफ्तार ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार के पास शहर में कुश्ती सर्किट को आतंकित करने के लिए मारपीट की घटना का एक वीडियो था. 

हत्या के मामले में पहलवान सुशील कुमार को रोहिणी कोर्ट ने 6 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा

पुलिस ने अदालत को बताया, “सुशील ने प्रिंस (उसके दोस्त) से वह वीडियो बनाने के लिए कहा था. उसने और उसके साथियों ने पीड़ितों को जानवरों की तरह पीटा. वह कुश्ती समुदाय में अपना डर ​​स्थापित करना चाहता था.”

[ad_2]
[ad_1]

Source link

Leave a comment