Chandra Grahan 2021: कल लगेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, जानें समय, सूतक काल और खाने-पीने से जुड़ी मान्यताएं - SARKARI JOB INDIAN

Chandra Grahan 2021: कल लगेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, जानें समय, सूतक काल और खाने-पीने से जुड़ी मान्यताएं

[ad_1]
[ad_1]

Chandra Grahan 2021: कल लगेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, जानें समय, सूतक काल और खाने-पीने से जुड़ी मान्यताएं

Chandra Grahan 2021: कल बैसाख माह की पूर्णिमा भी है और चंद्रग्रहण भी लगेगा.

खास बातें

  • साल का पहला चंद्र ग्रहण उपछाया ग्रहण होगा.
  • ग्रहण काल में अपने ईष्ट देव की पूजा अर्चना करना शुभ माना जाता है.
  • भारत में चंद्र ग्रहण उपछाया की तरह ही दिखेगा.

First Lunar Eclipse 2021 Date And Time: साल 2021 का पहला चंद्र ग्रहण (May)26 मई यानि कल लगेगा. कल बैसाख माह की पूर्णिमा भी है और चंद्रग्रहण भी लगेगा. आपको बता दें कि ये साल का पहला चंद्र ग्रहण उपछाया ग्रहण होगा. क्योंकि चंद्रमा पृथ्वी के अंधेरे से होकर गुजरेगा. साल का पहला चंद्र ग्रहण उपछाया ग्रहण होने के कारण सूतक काल प्रभावी नहीं होगा. चंद्र ग्रहण के दौरान चंद्रमा के लाल-नारंगी रंग के कारण पूरे चंद्र ग्रहण को अक्सर ब्लड मून कहा जाता है. भारत में चंद्र ग्रहण उपछाया की तरह ही दिखेगा. ग्रहण काल के दौरान सूतक काल मान्य न होने के कारण देश के मंदिरों के कपाट बंद नहीं किए जाएंगे. इसके साथ ही शुभ कार्यों पर भी रोक नहीं होगी. असल में चंद्रमा पर सूर्य का प्रकाश कुछ कटा हुआ पहुंचता है. जिसके कारण उपछाया चंद्र ग्रहण की स्थिति में चंद्रमा की सतह कुछ धुंधली सी दिखाई देने लगती है. जिसे उपछाया चंद्र ग्रहण कहते हैं. ग्रहण काल में अपने ईष्ट देव की पूजा अर्चना करना शुभ  माना जाता है.

कहां नजर आएगाः

यह भी पढ़ें

पूर्वी एशिया, प्रशांत महासागर, उत्तरी एवं दक्षिणी अमेरिका के ज्यादातर हिस्सों में और आस्ट्रेलिया में पूर्ण चंद्र ग्रहण नजर आएगा. लेकिन यह भारत के अधिकांश भाग में पूर्ण चंद्र ग्रहण के दौरान क्षितिज के नीचे रहेगा. इस लिए यहां पूर्ण चंद्र ग्रहण नजर नहीं आएगा. मगर पूर्वी भारत के कुछ भागों के लोग आंशिक चंद्र ग्रहण का आखिरी भाग देख सकेंगे. इसे अरुणाचल प्रदेश, असम, नागालैंड,मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, पश्चिमी बंगाल में देखा जा सकेगा.

चंद्रग्रहण पर खाने-पीने से जुड़ी मान्यताएंः (Assumptions Related To Food And Drink On Lunar Eclipse)

1. साल का पहला चंद्र ग्रहण उपछाया ग्रहण होने के कारण सूतक काल प्रभावी नहीं होगा. लेकिन गर्भवती स्त्रियां पूरी सावधानी बरतें. 

2. वे लोग जो बीमार हैं या जो बुजुर्ग हैं उन्हें इस दौरान उपवास नहीं करना चाहिए. लेकिन वे इस दौरान हल्का सात्विक भोजन ले सकते हैं जो पचने में आसान हो और पेट के लिए भी हल्के हों. 

3. इस दौरान खाने में आप मेवे ले सकते हैं. यह कम मात्रा में खाने पर भी शरीर को पूरी एनर्जी देंगे.

4. माना जाता है कि ग्रहण के दौरान खाने और पानी पीने से भी बचना चाहिए. अगर आप बीमार हैं या आप गर्भवती हैं तो आप हल्का गर्म पानी पी सकते हैं. 

5. माना जाता है कि ग्रहण पोषक तत्वों को प्रभावित कर सकता है. इस दौरान खाना पकाने की भी मनाही होती है.

6. माना जाता है कि कुछ लोग पूरे ग्रहण के दौरान व्रत रखते हैं और कुछ खाते व पीते नहीं हैं.

7. महिलाओं को ग्रहण के दौरान सात्विक भोजन लेने की सलाह दी जाती है.

8. माना जाता है कि पानी में कुछ बूंदे तुलसी के या पत्ते डालकर इसे उबाल कर पीना चाहिए.

pra4opco

चंद्र ग्रहण के समय गर्भवती स्त्रियां पूरी सावधानी बरतें.  

चंद्र ग्रहण का समयः

चंद्र ग्रहण 26 मई को दोपहर 2 बजकर 17 मिनट से शुरू होगा

साल 2021 में कितने ग्रहण दिखाई देंगेः

हर साल औसतन चार से सात ग्रहण होते हैं, लेकिन उनमें से कुछ पूरे होते हैं और कुछ अधूरे. स्थानीय सांस्कृतिक और मौसम के आधार पर दुनिया-भर में पूरे चंद्रमा के अलग-अलग नाम हैं. इस साल चार ग्रहण पड़ेंगे. 

26 (May) मईः पूरा चंद्र ग्रहण.

10 (June) जूनः सूर्यग्रहण.

19 (November) नवंबरः आंशिक चंद्र ग्रहण.

4 (December) दिसंबरः पूरा सूर्य ग्रहण.

Cashless Treatment For COVID-19 | इंश्योरेंस कंपनी ने नहीं दिया कैशलेस ट्रीटमेंट, ऐसे करें शिकायत

सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

[ad_2]
[ad_1]

Source link

Leave a comment