Delhi Vaccination: 18-44 उम्र वालों के लिए आज के बाद कोवैक्सीन का स्टॉक खत्म - SARKARI JOB INDIAN

Delhi Vaccination: 18-44 उम्र वालों के लिए आज के बाद कोवैक्सीन का स्टॉक खत्म

[ad_1]
[ad_1]

Delhi Vaccination: 18-44 उम्र वालों के लिए आज के बाद कोवैक्सीन का स्टॉक खत्म

दिल्ली में कोरोना वैक्सीन की कमी।

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना मामलों (Coronavirus Delhi Update) का ग्राफ भले ही नीचे आया हो लेकिन वैक्सीन (Delhi Corona Vaccine) को लेकर समस्या गहराती नजर आ रही है. दिल्ली में जरूरत के हिसाब से वैक्सीन की आपूर्ति नहीं हो पा रही है. आम आदमी पार्टी (AAP) की नेता आतिशी ने वैक्सीनेशन बुलेटिन जारी करते हुए कहा कि 45 से ऊप उम्र वालों के लिए उपलब्ध वैक्सीन का स्टॉक 3,98,000 है. वहीं 18 से 44 उम्र वालों के लिए उपलब्ध वैक्सीन का स्टॉक 2,19,000 है. 45 से ऊपर के हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर के लिए 5 दिन का ही कोवैक्सीन का स्टॉक और 4 दिन का कोविशील्ड का स्टॉक बचा है. उन्होंने कहा कि 18 से 44 उम्र वालों के लिए आज के बाद कोवैक्सीन का स्टॉक खत्म हो जाएगा. 125 टीकाकरण केंद्र जहां पर कोवैक्सीन लग रही थी, वह बंद हो जाएंगे. 

यह भी पढ़ें

आप नेता आतिशी ने कहा कि 18 से 44 उम्र वालों के लिए कोविशील्ड का आज के बाद 3 दिन का स्टॉक उपलब्ध है. आज 2,67,690 कोविशील्ड कि डोज केंद्र सरकार की तरफ से दिल्ली को मिलने की संभावना है. अगर इतनी डोज मिल गई तो इस आयु वर्ग के लिए 6 दिन टीकाकरण कार्यक्रम और चलाया जा सकता है.

दिल्ली में कोरोना पॉजिटिविटी रेट गिरकर 17.76% हुआ

दिल्‍ली में कोरोना के हालात में पिछले कुछ दिनों में सुधार आया है और नए केसों की संख्‍या में लगातार कमी आ रही है. दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट गिरकर 17.76% हो गया है जो 4 अप्रैल के बाद सबसे कम है. अच्‍छी खबर यह है कि पिछले 15 दिनों में दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट आधा हुआ है. देश की राजधानी में पिछले 24 घंटों में 12481 नए मामले सामने आए हैं. 12 अप्रैल के बाद यह एक दिन में कोरोना के नए केसों की सबसे कम संख्‍या है. पिछले 24 घंटों में 347 मरीजों की मौत हुई. दिल्‍ली में इस समय रिकवरी रेट 92.3% है जबकि एक्टिव मरीज 6.21% हैं. डेथ रेट- 1.48% है जबकि पॉजिटिविटी रेट 17.76% है.

कोरोना की तीसरी लहर सीएम केजरीवाल का बड़ा बयान

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को भी तीसरी लहर की तैयारी करनी चाहिए. इन्फ्रास्ट्रक्चर बढ़ाने और मजबूत करने की ज़रूरत है. नवंबर 2020 की कोरोना लहर सफलता से डील की थी लेकिन इस लहर में सबसे अधिक एक दिन में 28 हजार केस दर्ज हुए हैं. जिसकी वजह से पूरा इन्फ्रास्ट्रक्चर तनाव में आ गया था. लेकिन अब जिस स्केल पर इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जा रहा है अगर अगली लहर में 30 हजार मामले भी एक दिन में आ गए तो हम डील करने के लिए तैयार हैं. 

दिल्ली में सिर्फ 3-4 दिन की ही वैक्सीन बची है: अरविंद केजरीवाल

[ad_2]
[ad_1]

Source link

Leave a comment