Earth Day 2021: कब से शुरू हुआ था पृथ्वी दिवस, जानें- इतिहास, ये है इस साल की थीम - SARKARI JOB INDIAN

Earth Day 2021: कब से शुरू हुआ था पृथ्वी दिवस, जानें- इतिहास, ये है इस साल की थीम

[ad_1]
[ad_1]

इस साल की थीम ” Restore Our Earth” है. जिसका अर्थ है, हमारी पृथ्वी को पुनर्स्थापित करना हमारा कर्तव्य है क्योंकि हम इस पर रहते हैं. इसके अलावा, एक स्वस्थ ग्रह सिर्फ एक विकल्प नहीं है, बल्कि एक आवश्यकता है.

जानिए-पृथ्वी दिवस से जुड़े कोट्स


1. “पृथ्वी हर आदमी की जरूरत को पूरा करने के लिए पर्याप्त है, लेकिन हर आदमी के लालच को नहीं.” – महात्मा गांधी

2.  “मनुष्य की अंतरात्मा की अंतिम परीक्षा भविष्य की पीढ़ियों के लिए आज कुछ त्याग करने की उसकी इच्छा हो सकती है, जिसके लिए धन्यवाद के शब्द नहीं सुने जाएंगे. ” – गेलॉर्ड नेल्सन

3. “मुझे केवल तब गुस्सा आता है जब मैं बर्बादी देखता हूं,.जब मैं लोगों को उन चीजों को फेंकते देखता हूं जिनका हम उपयोग कर सकते हैं. ” – मदर टेरेसा

4. “पर्यावरण वह जगह है जहां हम सभी मिलते हैं; जहां सभी का आपसी हित हो; यह एक चीज है जिसे हम सभी साझा करते हैं. ” – लेडी बर्ड जॉनसन

आइए जानते हैं ‘पृथ्वी दिवस’ या ‘अर्थ डे’ मनाए जाने की शुरुआत कैसे हुई? इस शब्द को लाने वाले जुलियन कोनिग थे. सन् 1969 में उन्होंने सबसे पहले इस शब्द से लोगों को अवगत करवाया.

अर्थ डे का इतिहास (History of Earth Day)

पृथ्वी दिवस एक वार्षिक आयोजन है, जिसे 22 अप्रैल को दुनिया भर में पर्यावरण संरक्षण और समर्थन प्रदर्शित करने के लिए आयोजित किया जाता है. इसकी स्थापना अमेरिकी सीनेटर जेराल्ड नेल्सन ने 1970 में एक पर्यावरण शिक्षा के रूप की थी.

अब इसे 192 से अधिक देशों में हर साल मनाया जाता है. सीनेटर नेल्सन ने पर्यावरण को एक राष्ट्रीय एजेंडा में जोड़ने के लिए पहले राष्ट्रव्यापी पर्यावरण विरोध की प्रस्तावना दी थी. जाने-माने फिल्म और टेलिविज़न अभिनेता एड्डी अलबर्ट ने पृथ्वी दिवस, के निर्माण में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभायी थी.

हालांकि, पर्यावरण सक्रियता के संदर्भ में जारी इस वार्षिक घटना के निर्माण के लिए अलबर्ट ने प्राथमिक और महत्वपूर्ण कार्य किए, जिसे उन्होंने अपने सम्पूर्ण कार्यकाल के दौरान प्रबल समर्थन दिया. ऐसा माना जाता है कि विशेष रूप से 1970 के बाद पृथ्वी दिवस को अलबर्ट के जन्मदिन, 22 अप्रैल, को मनाया जाने लगा.



[ad_2]
[ad_1]

Source link

Leave a comment