India Coronavirus : भारत में सबसे ज्यादा आ रहे नए मामले, ऑक्सीजन संकट से निराश हैं अस्पताल; 10 बातें - SARKARI JOB INDIAN

India Coronavirus : भारत में सबसे ज्यादा आ रहे नए मामले, ऑक्सीजन संकट से निराश हैं अस्पताल; 10 बातें

[ad_1]
[ad_1]

India Coronavirus : भारत में सबसे ज्यादा आ रहे नए मामले, ऑक्सीजन संकट से निराश हैं अस्पताल; 10 बातें

India Covid-19 cases : बुधवार को एक दिन में करीब 3 लाख नए मामले दर्ज हुए थे.

नई दिल्ली:
कोरोनावायरस के लिहाज से भारत की स्थिति पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा खराब है. भारत में बुधवार की सुबह तक एक दिन में कोरोना के करीब 3 लाख नए मामले दर्ज किए गए थे. ये अब तक सबसे ऊंचे आंकड़े हैं. वहीं दूसरी लहर के तहत अचानक इतने मामले सामने आने के चलते कई राज्यों के अस्पताल बेड, ऑक्सीजन और वेंटिलेटर की कमी से जूझ रहे हैं. कई अस्पतालों में वक्त पर सप्लाई नहीं हो पा रही है, तो कई जगहों पर मरीजों को वक्त पर एडमिट ही नहीं कराया जा पा रहा है.

देश में सबसे ज्यादा होने वाली मौत के साथ मौत के आंकड़े भी टूट गए हैं. बुधवार को देश में पहली बार एक दिन में 2000 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी.

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  1. देश में कोरोना से पहली बार बुधवार को 24 घंटे में संक्रमण के 2,95,041 नए मामले सामने आए थे. एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 21 लाख हो चुकी है, जो कि संक्रमण के कुल मामलों का 13.82 प्रतिशत है. रिकवरी रेट भी 85.01 प्रतिशत रह गया है. डेथ रेट 1.17 प्रतिशत है.

  2. गुरुवार की सुबह सीपीआई (एम) के नेता सीताराम येचुरी ने ट्वीट कर दुखद जानकारी दी है कि उनके बड़े बेटे की आज कोविड-19 से मौत हो गई है. उनके इस ट्वीट पर केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन, शशि थरूर और दूसरे कई लोगों ने उन्हें सांत्वना दी है. आज सुबह  दिल्ली कांग्रेस के नेता अशोक कुमार वालिया का भी कोविड के चलते इंद्रप्रस्थ अपोलो में निधन हो गया है.

  3. महाराष्ट्र देश में सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है. यहां बुधवार को राज्य सरकार ने कई नई पाबंदियों की घोषणा की है, जिसके तहत राज्य में शहरों के बीच और एक जिले से दूसरे जिले में यात्रा पर रोक रहेगी. ये नई पाबंदियां गुरुवार रात आठ बजे से एक मई सुबह सात बजे तक प्रभावी रहेंगी.

  4. बता दें कि महाराष्ट्र समेत कई राज्य मेडिकल ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं. महाराष्ट्र के नासिक में बुधवार को ऑक्सीजन स्टोरेज टैंक में रिसाव के कारण दम घुटने से वेंटिलेटर पर मौजूद 22 रोगियों की मौत हो गई थी. वहीं कई अस्पतालों में लगातार ऑक्सीजन सप्लाई में दिक्कत आ रही है. 

  5. दिल्ली के भी कई अस्पताल लगातार प्रशासन को जानकारी दे रहे हैं कि उनके यहां ऑक्सीजन की कमी है. कई अस्पतालों में बस कुछ घंटों के लिए ऑक्सीजन आपूर्ति होने की जानकारी है. आज सुबह ही दिल्ली के चन्नीदेवी अस्पताल ने बताया था कि उसके पास सुबह सात बजे तक ऑक्सीजन आपूर्ति खत्म हो चुकी है.

  6. अस्पताल की ओर से कहा गया था कि ‘जनकपुरी स्थित माता चन्नन देवी अस्पताल में ऑक्सीजन की आपूर्ति आज सुबह समाप्त हो गई है. लगभग 200+ मरीज भर्ती हैं और उन्हें ऑक्सीजन की जरूरत है. हम कल रात से लगातार कंपनियों और अधिकारियों के साथ बात कर रहे है. कृपया तत्काल इस मामले को देखें. यह बहुत गंभीर बात है.’

  7. नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ वी के पॉल ने संवाददाता सम्मेलन में राज्यों, अस्पतालों और कई नर्सिंग होम से अपील की कि ऑक्सीजन का समुचित उपयोग सुनिश्चित करें क्योंकि यह कोरोना वायरस संक्रमित रोगियों के लिए ‘जीवन रक्षक’ है. केंद्र ने बताया है कि देश में 7,500 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का उत्पादन किया जा रहा है और 6,600 मीट्रिक टन ऑक्सीजन राज्यों को आवंटित किया जा रहा है. केंद्र ने केंद्रशासित प्रदेशों और राज्य सरकारों से महामारी द्वारा पेश की गईं चुनौतियों से निपटने के लिये साथ मिलकर काम करने के लिये कहा.

  8. दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान और महाराष्ट्र के बीच ऑक्सीजन के वितरण को लेकर आरोप-प्रत्यारोप देखने को मिल रहा है. ये सभी राज्य अपने कोटे की ऑक्सीजन बढ़ाने की मांग कर रहे हैं. दिल्ली ने जानकारी दी है कि केंद्र सरकार ने उसके हिस्से का कोटा बढ़ा दिया है, जिसके लिए केजरीवाल ने केंद्र को धन्यवाद कहा है. 

  9. अगर दिल्ली में कोरोना के आंकड़ों की बात करें तो बुधवार शाम तक यहां 24 घण्टे में 24,638 नए केस सामने आए और संक्रमण दर 31.28 फीसदी हो गई. इस अवधि में 249 मरीजों की मौत के साथ मौतों का आंकड़ा 12,887 हो गया. दिल्ली में 19 हजार के पार हॉट स्पॉट्स और 19,624 कंटेन्मेंट जोन्स की संख्या हैं.

  10. दिल्ली में सक्रिय कोरोना मरीजों की संख्या 85,364 है. होम आइसोलेशन का आंकड़ा 42 हजार के पार हो गया है, होम आइसोलेशन में कुल मरीजों की संख्या 42,768 हुई. 9.17 फीसदी हुई सक्रिय कोरोना मरीजों की दर और रिकवरी दर 89.43 फीसदी हुई.

[ad_2]
[ad_1]

Source link

Leave a comment